विश्व के महान भारतीय धावक ‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह की कोरोना से हुई मौत, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और गृहमंत्री सहित हर क्षेत्र से लोगों ने किया गहरा शोक व्यक्त, राजकीय सम्मान के साथ होगा अंतिम संश्कार





भारत का महान धावक ‘ फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह एक ऐसा नाम जिसे देश का बच्चा-बच्चा जानता है, पर अफसोस कि अब इनके बारे में किताबों और सोशल मीडिया पर ही पढ़ने और देेेखने को मिल सकेगा।कोरोना की इस महामारी में मिल्खा सिंह भी अपनी जिंदगी की जंग हार गए।शुक्रवार को रात 11:30 में इनका निधन हो गया।वे 92 वर्ष के थें

चार बार के एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता मिल्खा सिंह ने 1958 राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण हासिल किया था। उन्हें 1959 में पद्मश्री से नवाज़ा गया था। वह पिछले एक महीने से कोरोना वायरस संक्रमण से जूझ रहे थे। बता दें कि 13 जून को कोरोना संक्रमण से ही उनकी 85 वर्षीय पत्नी निर्मल कौर की भी मोहाली के एक निजी अस्पताल में मौत ही गयी थी।राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री सहित हर क्षेत्र से लोगों ने इनकी मृत्यु हो जाने पर गहरा शोक व्यक्त किया है।मिल्खा सिंह का अंतिम संश्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ होगा।

मिल्खा सिंह का जन्म पाकिस्तान में 1929 में हुआ था। पाकिस्तान विभाजन के समय मिल्खा सिंह भागकर यहां आये थें।इनके सभी परिवार जिसमें इनके माता-पिता और आठ भाई-बहनों को मार दिया गया था।मिल्खा सिंह और निर्मल कौर का प्रेम विवाह हुआ था।

 

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *